उत्तराखंडः नामी मिर्गी रोग विशेषज्ञ के रिजार्ट में कसीनो का बड़ा खेल, लाखों के कैश व पांच महिलाओं सहित 37 लोग दबोचे

खबर शेयर करें -

Uttarakhand News: उत्तराखंड में एक के बाद एक मामले सामने आ रहे है। पुलिस ने ऋषिकेश में पांच महिलाएं और ऋषिकेश कोतवाली का सिपाही भी शामिल है। पुलिस ने पांच लाख से ज्यादा की नकदी, 3,993 कसीनो चिप्स, 37 मोबाइल फोन, छह शराब की बोतलें भी बरामद की हैं। पुलिस को सूचना मिली कि ऋषिकेश में चर्चित मिर्गी रोग विशेषज्ञ आरके गुप्ता के पौड़ी जिले के गंगा भोगपुर में बने नीरज फॉरेस्ट रिजार्ट के वेलनेस सेंटर में कसीनो चल रहा है। जिसके बाद गुरूवार रात पुलिस ने भंडाफोड़ करते हुए 37 लोगों को दबोच लिया। इनमें पांच महिलाएं और ऋषिकेश कोतवाली का सिपाही भी शामिल है। पुलिस ने पांच लाख से ज्यादा का कैश, 3,993 कसीनो चिप्स, 37 मोबाइल फोन, छह शराब की बोतलें भी बरामद की हैं।

इसके बाद पौड़ी के लक्ष्मणझूला थाने में पुलिस ने रिजार्ट मालिक आरके गुप्ता, प्रबंधक साहिल ग्रोवर, फ्रंट ऑफिस मैनेजर राहुल गुप्ता और दिल्ली के विशाल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस ने रिजार्ट के वेलनेस सेंटर को भी सील कर दिया है। एसएसपी पौड़ी श्वेता चैबे के अनुसार सूचना मिली थी कि नीरज फॉरेस्ट रिजॉर्ट में पिछले दो दिनों से अवैध कसीनो का संचालन हो रहा है। एएसपी कोटद्वार जया बलोनी और सीओ श्रीनगर रविंद्र चमोली के नेतृत्व में टीम बनाई गई। टीम ने गुरूवार रात रिजॉर्ट में छापा मारकर पांच महिलाओं और एक सिपाही समेत 37 लोगों को जुआ खेलते हुए पकड़ लिया। पुलिस ने मौके से पांच लाख 16 रुपये नकद, कसीनो चिप्स, ताश की गड्डियां, मोबाइल फोन, लग्जरी गाड़ियां भी बरामद कीं। पकड़े गए लोगों में हरिद्वार, दिल्ली और यूपी के बिजनौर के निवासी हैं।

एसएसपी के अनुसार जुआं खेलने वालों को कैश के बदले कसीनो चिप्स दिए जाते हैं। आयोजक जुएं की रकम का पांच प्रतिशत हिस्सा रखकर बाकी रकम जीतने वाले को ऑनलाइन ट्रांसफर करते हैं। पुलिस की ओर से इनके बैक खातों की जानकारी की जा रही है। कसीनो का मास्टरमाइंड शिवालिक नगर हरिद्वार का विशाल है। ऑनलाइन ग्रुप के माध्यम से सभी लोगों को जोड़ा था।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments