HIGH

उत्तराखंडः (बड़ी खबर)- एलटी कला भर्ती हुई निरस्त, हाई कोर्ट ने बीएड को माना अनिवार्य

खबर शेयर करें -

Nainital News: नैनीताल हाई कोर्ट से बड़ी खबर सामने आ रही है। हाई कोर्ट ने एलटी कला शिक्षक पद पर नियुक्ति के लिए बीएड अनिवार्य योग्यता को अनिवार्य माना है। कोर्ट ने इस आधार पर राज्य में करीब 250 एलटी कला विषय के लिए चल रही नियुक्ति प्रक्रिया को निरस्त कर नए सिरे से भर्ती करने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(Good News) पिथौरागढ़ से देहरादून हवाई सेवा अब सप्ताह में 6 दिन

सोमवार को मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति विपिन सांघी व न्यायमूर्ति रवींद्र मैठाणी की खंडपीठ में सुयालबाड़ी, जिला नैनीताल निवासी तारा राम की याचिका पर सुनवाई हुई। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता डॉ. कार्तिकेय हरि गुप्ता ने बताया कि 2020 में सहायक शिक्षक एलटी पदों के लिए विज्ञापन जारी किया गया था एवं पद विज्ञापन में पात्रता एनसीटीई विनियम, 2014 के अनुसार अनिवार्य रूप से बीएड निर्धारित की गई थी।

अनिवार्य योग्यता के रूप में विज्ञापन के बाद राज्य सरकार ने 25 फरवरी 2021 को नए नियम प्रकाशित किए। नए नियमों में बीएड की योग्यता को हटाया गया था। इसको याचिका के माध्यम से चुनौती दी थी। याचिका में कहा गया है कि सरकार की ओर से 2021 की नियमावली में संशोधन कर बीएड को हटाना एनसीटीई के प्रावधानों के विपरीत हैं।

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी -(दुखद) चुनाव ड्यूटी से लौट रहे टीचर की हादसे में मौत
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) इस विभाग में कर्मचारियो के स्थानांतरण की प्रक्रिया शुरू

कोर्ट ने इस तर्क को स्वीकार करते हुए माना है कि राज्य के 2021 के नियम एनसीटीई के लिए तय प्रावधान के विरुद्ध हैं, इस आधार पर विनियम को रद कर दिया गया। कोर्ट ने आयोग को कला शिक्षक के इन पदों के लिए नए सिरे से विज्ञापन जारी करने और जल्द से जल्द चयन पूरा करने का निर्देश दिया है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments