उत्तराखंड – (बड़ी खबर) प्रेमी निकला 22वर्षीय युवती का हत्यारा, ऐसे जुड़ी प्रेम प्रसंग से जुड़ी कहानी

खबर शेयर करें -

चम्पावत। पुलिस ने निकटवर्ती ग्राम चौकी क्षेत्र में हुए दलित युवती हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने युवती का शव मिलने के पांच घंटे के भीतर मामले के अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया। हत्यारोपी कथावाचक है और युवती का प्रेमी रहा है। पुलिस ने युवती के पिता की तहरीर पर कल ही कथावाचक के गौरव पांडेय के खिलाफ हत्यारा, हत्या का साक्ष्य छिपाने व एससीएसटी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली थी।

मालूम हो कि बुधवार की सुबह सैर पर निकलने कुछ लोगों ने चौकी फूंगर गांव में मंच तामली रोड पर पैती खेल मैदान के पास एक युवती का शव पड़ा देखा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लिया और मामले की छानबीन शुरू की। मृतका की पहचान तल्ली चौकी निवासी सुरेश राम की 22 वर्षीय पुत्री बबीता के रूप में हुई थी। इसके बाद मृतका के पिता ने कोतवाली में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी। युवती के पिता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने गौरव पाण्डे पुत्र फणेन्द्र पाण्डे, नि0 सल्ला, कोतवाली चम्पावत के खिलाफ धारा 302/201 भादवि 3 (2) (v) SC/ST ACT अभियोग पंजीकृत किया गया।

एसपी देवेंद्र पींचा के निर्देश पर अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए सीओ विपिन चन्द्र पन्त के पर्यवेक्षण और कोतवाल योगेश चन्द्र उपाध्याय के नेतृत्व मे तत्काल पुलिस टीम गठित कर सुरागरसी-पतारसी व सर्विलान्स के माध्यम से त्वरित कार्यवाही करते हुए अभियुक्त गौरव पाण्डे पुत्र फणेन्द्र पाण्डे, नि0 सल्ला, कोतवाली चम्पावत को अभि0 के घर के ऊपर सड़क से गिरफ्तार किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - (बधाई) द्वाराहाट की महिलाओं ने खुद बनाए अपनी समृद्धि के रास्ते
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां की चार शिक्षिका होंगी नौकरी से बर्खास्त

एसपी देवेंद्र पींचा ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त से गहन पूछताछ पर यह तथ्य सामने आया कि गौरव पाण्डे व मृतका के बीच प्रेमप्रसंग था, परन्तु गौरव पाण्डे की किसी अन्य लड़की से शादी हो जाने के बावजूद भी मृतका का गौरव पाण्डे के घर आना जाना व कॉल करना आदि जारी रहा। जिस कारण गौरव पाण्डे की गृहस्थी में दिक्कत होने पर अभियुक्त गौरव पाण्डे ने बवीता को रास्ते से हटाने के उदेश्य से दुपट्टा से गला घोट कर बवीता की हत्या कर दी। अभियुक्त के निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त एक मोबाइल व एक दुपट्टा बरामद किया गया है। एसपी ने घटना के त्वरित अनावरण करने वाली पुलिस टीम को 5000 रुपये के ईनाम से पुरष्कृत करने की घोषणा की है। पुलिस टीम में सीओ विपिन चन्द्र पंत, कोतवाल योगेश चन्द्र उपाध्याय, एसआई ललित पाण्डे, पिंकी धामी, ASI दिनेश चन्द्र उपाध्याय, HC महिमन कुमार, मनोज बैरी, जीवन सौन, दुर्गानाथ, अशोक वर्मा, विनोद जोशी, महेश मेहता, जीवन कुमार शामिल रहे।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments