उत्तराखंड – ऐसे पकड़े गए 45000 फर्जी सिम कार्ड और पकड़ा गया सरगना

खबर शेयर करें -
  • एसटीएफ ने देश में एम2एम सिम के माध्यम से 80 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का किया खुलासा।

देहरादून– एसटीएफ ने देश में एम2एम सिम के माध्यम से अपराध का खुलासा किया है। एसटीएफ की साईबर क्राईम पुलिस टीम ने फर्जी सिम कार्डों की अब तक की सबसे बडी बरामदगी की और 45 हजार फर्जी सिम बरामद किए। एसटीएफ एसएसपी आयूष अग्रवाल ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि एसटीएफ की टीम ने 80 लाख रुपये की धोखाधडी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया और एक आरोपी को चाँदनी महल क्षेत्र दिल्ली से गिरफ्तार किया। उत्तराखंड एसटीएफ ने फर्जी सिम के जरिए ऑनलाइन ट्रेडिंग के नाम पर 80 लाख की धोखाधड़ी करने वाले शातिर अपराधी को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। आरोपी से करीब 3000 सिम जब्त किए गए हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां फर्जी दस्तावेजों के साथ भारती में पहुंचा युवक

एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने बताया कि कुछ दिन पहले देहरादून के निवासी ने साइबर सेल को शिकायत की कि, एक वह्ट्सएप ग्रुप “T Rowe Price stock pull up group A82 में उसे एड किया गया। जहां स्टॉक ट्रेडिंग के बारे में जानकारी दी जा रही थी। ग्रुप के ही अज्ञात लोगों ने शिकायतकर्ता से सम्पर्क किया और खुद को इंदिरा सिक्योरिटीज के एझेंट बताक ऑनलाइन ट्रेडिंग के लिए खाता खुलवाया। इसके बाद एक लिंक भेजकर स्टोक ट्रेडिंग से जुड़ने की बात कही गई। निवेश कमाने का लालच देकर शिकायतकर्ता से अलग अलग मौकों पर कुल 80 लाख रुपए की वसूली कर ली गई। साइबर सेल ने मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपियों की धरपकड़ के लिए स्पेशल टीम का गठन किया। जांच में पता चला कि जिन मोबाईल नम्बरों से वादी को व्हाट्सएप कॉलिंग की गयी थी वह XENO TECHNOLOGY के नाम से मुदस्सिर मिर्जा पुत्र जुबैर मिर्जा निवासी तुर्कमान गेट चाँदनी महल दिल्ली के द्वारा प्राप्त किये गये थे। जिसकी तलाश में एक एसटीएफ टीम को दिल्ली भेजा गया तो स्थानीय स्तर पर टीम द्वारा जानकारी एकत्रित करने के पश्चात उक्त मुदस्सिर मिर्जा को थाना चाँदनी महल क्षेत्र दिल्ली से गिरफ्तार किया गया तथा उसके कब्जे से लगभग 3000 सिम बरामद हुये हैं।

पूछताछ में अभियुक्त मुदस्सिर मिर्जा ने बताया कि उसके द्वारा कॉरपोरेट आईडी के नाम पर हजारों की संख्या में एम2एम सिम कार्ड्स ISSUE कराये गये हैं जिनका प्रयोग व्हाटसएप पर अपने बिजनेस की मार्केटिंग के लिए किया जाता था। इसके लिये उसके द्वारा मुम्बई, बोरीवली में एक ऑफिस किराये पर लिया और अपने कोरपोरेट आईडी पर अलग अलग समय पर एयरटेल से कुल 29,000 सिम, वोडाफोन-आईडिया के 16000 सिम कार्ड खरीदे। इन सिमकार्ड को अलग अलग एजेंटों को दिया गया। मौके पर आरोपी से 3000 सिमकार्ड जब्त किए गए। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ के बाद आगे की कड़ी जोड़ने में जुटी है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments