नैनीताल – (बड़ी खबर) यहां अंगीठी की गैस से तीन लोगों की मौत

नैनीताल – बंद कमरे में अंगीठी जलाकर सो रहे तीन मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई, नैनीताल हाईकोर्ट के समीप अस्थाई रूप से रहने वाले तीनों मजदूर उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे, जानकारी के अनुसार, रविवार की रात मल्लीताल क्षेत्र में बदायूं के तीन मजदूर अंगीठी जलाकर कमरे में सो गए। इस दौरान बंद कमरे में गैस लगने से तीनों की हालत बिगड़ गई। मजदूरों के परिजनों ने उनको संपर्क करने की कोशिश की, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। जब सोमवार शाम तक भी मजदूरों ने फोन नहीं उठाया तो परिजनों ने ठेकेदार को फोन किया। जिसके बाद रात ही ठेकेदार हल्द्वानी से नैनीताल पहुंचा। देर रात लगभग 12 बजे ठेकेदार मजदूरों के कमरे में पंहुचा तो कमरा अंदर से बंद था। बहुत आवाज देने के बाद भी जब मजदूरों ने कोई जवाब नहीं दिया तो दरवाजा तोड़ ठेकेदार अंदर घुस गया। जहां तीनों मजदूर मूर्छित अवस्था में पड़े थे।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) 25 हजार उपनल कर्मियों का 10 प्रतिशत मानदेय बढ़ेगा, मिली मंजूरी

साथियों ने जब उन्हें देखा तो उन्हें तत्काल डेढ़ बजे रात बी.डी.पाण्डे अस्पताल लाया गया। जहां इलाज के दौरान चिकित्सकों ने 25 साल के राजकुमार और 21 साल अवनीश को मृत घोषित कर दिया, जबकि 21 साल मनिंदर को हल्द्वानी हायर सेंटर रैफर किया गया। बताया जा रहा है कि आज सवेरे मनिंदर ने भी दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार ये श्रमिक हाईकोर्ट में बन रहे एक चैम्बर के निर्माण के लिए यूपी से आए थे। वहीं पास में अस्थाई निर्मित कमरे में रह रहे थे, जब ठंड से बचाव के लिए जलाई गई अंगीठी की गैस से तीनों की जान चली गई। वरिष्ठ चिकित्सक एम.एस.दुगताल ने बताया कि ठंड से बचाव के लिए जलाए गए कोयले की गैस घातक होती है और लापरवाही जान ले लेती है। उन्होंने लोगों से ऐसा कतई नहीं करने के निर्देश दिए।

अंगीठी जलाने से होता है ये नुकसान –
दरअसल, अगर तेल, कोयला या लकड़ी पूरी तरह से ना जले और धुआं बनने लगे तो कार्बन मोनोऑक्साइड गैस बनती है। यह गैस कमरे में ऑक्‍सीजन की कमी, सांस लेने में दिक्‍कत, सांस की बीमारियां, त्‍वचा से जुड़ी बीमारियां और सिर दर्द की समस्‍या का कारण बनती है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments