Ad

उत्तराखंड – साहित्यकार ठकुराठी को मिला कुमाउनी भाषा सेवी सम्मान

KhabarPahad-App
खबर शेयर करें -
  • साहित्यकार ठकुराठी को मिला कुमाउनी भाषा सेवी सम्मान

  • पिथौरागढ़; ‘आदलि-कुशलि’ कुमाउनी मासिक पत्रिका की ओर से पिथौरागढ़ जिला पंचायत सभागार में आयोजित दो दिवसीय कुमाउनी भाषा सम्मेलन के दौरान अल्मोड़ा से प्रकाशित हो रही कुमाउनी मासिक पत्रिका ‘पहरू’ के प्रबंध संपादक महेन्द्र ठकुराठी को ‘कुमाउनी भाषासेवी सम्मान’ से नवाजा गया। यह सम्मान उन्हें रिटायर्ड प्रोफेसर डॉ. परमानंद चौबे व ‘आदलि-कुशलि’ पत्रिका की संपादक डॉ. सरस्वती कोहली द्वारा प्रदान किया गया। श्री ठकुराठी के साथ-साथ वरिष्ठ कुमाउनी साहित्यकार पद्मादत्त पंत, महंत त्रिभुवन गिरी और पूरन चन्द्र कांडपाल को भी यह सम्मान दिया गया।
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी:(बड़ी खबर) कल फिर रहेगा रूट डायवर्जन, इन इलाकों में बिजली भी रहेगी गुल


इस अवसर पर बोलते हुए वक्ताओं ने कुमाउनी भाषा के संरक्षण के लिए पहरू, आदलि-कुशलि, कुर्मांचल अखबार, कुमगढ़ पत्रिका व कुमाउनी भाषाप्रेमियों द्वारा किए जा रहे प्रयासों की सराहना की और कुमाउनी भाषा को संविधान की आठवीं अनुसूची में सम्मिलित करवाने के लिए निरंतर प्रयासरत रहने की जरूरत बताई गई। कार्यक्रम के दौरान ‘समृद्धिकि दिशा में कुमाउनी भाषा’ शीर्षक के अंतर्गत कुमाउनी भाषाक सामान्य परिचय, कुमाउनीकि उपबोलि, आजादी है पैंली रची साहित्य, आजादीक बाद रची साहित्य और कुमाउनी भाषाकि समृद्धि में वर्तमान प्रयास उप-शीर्षकों पर वक्ताओं ने अपने-अपने विचार प्रस्तुत किए।


सम्मेलन के दौरान भाव राग ताल नाट्य अकादमी व नाद गंधर्व टीम के कलाकारों द्वारा कुमाउनी भाषा में वंदना, स्वागत गीत और लोकगीत प्रस्तुत किए गए और सायंकाल को कुमाउनी काव्यगोष्ठी आयोजित की गई। वरिष्ठ साहित्यकार पद्मादत्त पंत की ‘सोर के लोकपर्व’ व प्रकाश चंद्र पुनेठा की ‘न्यौलीखेत’ पुस्तकों का विमोचन भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान शिक्षाविद् डॉ. अशोक पंत, उक्राद नेता व पूर्व विधायक काशीसिंह ऐरी, साहित्यकार महेश पुनेठा, चिंतामणि जोशी, पीतांबर अवस्थी, शिवदत्त पांडेय, डॉ. आनंदी जोशी, मंजु पांडेय ‘उदिता’, कर्णदयाल सोराड़ी, हेम पंत, जीत गहतराज और विप्लव भट्ट आदि लोगों ने अपने विचार रखे।

Ad
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments