हल्द्वानी- आपके शहर में मुंबई का वड़ा पाव, लेखा जोशी लाई मुंबई वाला स्वाद

खबर शेयर करें -
  • हल्द्वानी में मुंबई का वड़ा पाव, लेखा जोशी ने लगाया पहाड़ी तड़का

हल्द्वानी – हल्द्वानी में पिछले कुछ सालों में युवाओं ने स्वरोजगार की तरफ कदम बढ़ाया है। इसमें महिलाओं की भागीदारी ज्यादा है। एजुकेशन, तकनीक के अलावा शहर में युवाओं ने खानपान को लेकर भी स्वरोजगार शुरू किया। आज हम आपको अगला स्टेशन रेस्ट्रो के बारे में बताने जा रहे हैं, जो खास वड़ापाव के लिए शुरू किया गया है।


महाराष्ट्र में पली-बढ़ी लेखा जोशी मूल रूप से कपकोट की रहने वाली हैं। महानगर में रहने के बावजूद उन्हें पहाड़ से लगाव था। उनके माता-पिता भी मुंबई में वड़ा पाव का रेस्ट्रो संचालित कर रहे थे लेकिन कोरोना काल से उन्हें रेस्ट्रो बंद करना पड़ा। लेखा ने माता-पिता के काम को पास से देखा था तो उन्होंने अगला स्टेशन रेस्ट्रो हल्द्वानी में शुरू करने का फैसला किया। इसके लिए उन्होंने पहले हल्द्वानी के बाजार को समझा और उन्होंने भी महसूस किया कि शहर को कुछ नया देना चाहिए। लेखा जोशी और शिवम जोशी ने भोटिया पड़ाव निकट पानी की टंकी के पास नंवबर 2023 में अगला स्टेशन जोशी वड़ा पाव नाम से रेस्ट्रो शुरू कर दिया।


लेखा जोशी ने बताया कि परिवार ने 2016- 2020 तक मुंबई में वड़ा पाव का रेस्ट्रो संचालित किया है। हम लोग सभी चीज खुद से तैयार करते हैं। मुझे इसका अनुभव था और उसी के साथ मैं हल्द्वानी पहुंची थी। पहाड़ में रहकर काम करने का मन था और शायद उसी वजह से ये मुमकिन हो पाया है। लेखा ने बताया कि फिलहाल उनके रेस्ट्रो के मेन्यू में 4 प्रकार के वड़ापाव है। उनकी कोशिश है कि पहाड़ी वड़ापाव भी तैयार किया जाए। ये काम रेस्की जरूर था क्योंकि हल्द्वानी को महाराष्ट्र का स्वाद पसंद आएगा, उन्हें इस बात का अंदाजा नहीं था। हल्द्वानी के लोगों से उन्हें अच्छा रिपोंस मिला है। उन्होंने कहा कि अगर अच्छा आइडिया हो और उसे सही तरीके से आगे बढ़ाया जाए तो कामयाबी जरूर मिलती है।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -(बड़ी खबर) फिर बदलेगा मौसम, होगी बारिश और बर्फबारी
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments