देहरादून- राज्य में नायब तहसीलदार के इतने पद खाली, काम भी प्रभावित

खबर शेयर करें -

देहरादून– उत्तराखंड में नायब तहसीलदार के 62 पद खाली हैं। ये पद पदोन्नति कोटे के हैं। इतनी बड़ी संख्या में पद खाली होने का सीधा असर काम पर पड़ रहा है। इससे आपदा राहत समेत राजस्व से जुड़े काम प्रभावित हो रहे हैं।

राज्य में नायब तहसीलदार, सहायक भूलेख अधिकारी के 62 पद खाली हैं। 55 पद नायब तहसीलदार के और सात पद सहायक भूलेख अधिकारी के नहीं हो पा रही है। राजस्व परिषद में हैं। 2021-22 से इन पदों पर डीपीसी लंबे समय से डीपीसी लटकी हुई है। किया जा रहा है।

इतनी बड़ी संख्या में पद खाली होने का सीधा असर राजस्व के कार्यों पर पड़ रहा है। खासतौर पर आपदा के दौरान धरातल पर हालात संभालने के लिए नायब तहसीलदारों की कमी महसूस की जा रही है। आपदा राहत, राजस्व वादों के निस्तारण समेत अन्य काम प्रभावित हो रहे हैं। लेखपाल संघ ने भी इस पर गहरी नाराजगी जताई है। दूसरी ओर सचिव राजस्व परिषद चंद्रेश यादव के अनुसार पदोन्नति की प्रक्रिया जल्द पूरी की जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  Big News:केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दे सकती है मोदी सरकार, 50 परसेंट पेंशन देने का है प्लान
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी : घर पर लगाए सोलर सिस्टम, भूल जाए बिजली का बिल, Brightsky solar solution लाया गजब के ऑफर

“” लंबे समय से प्रमोशन की प्रक्रिया रुकी हुई है। शासन, राजस्व परिषद स्तर से कई बार आश्वासन मिल चुके हैं। इसके बाद भी प्रक्रिया शुरू नहीं की जा रही है। कई कानून गो, राजस्व निरीक्षक बिना प्रमोशन के ही रिटायर हो रहे हैं। सरकारी कामकाज अलग बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है। समय पर प्रमोशन होने से नीचे के पदों पर भर्ती भी हो सकेगी।””

  • हुकुम चंद, अध्यक्ष लेखपाल संघ
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments