स्कूल फीस

देहरादून – निजी स्कूल तीन साल से पहले फीस नहीं बढ़ा सकेंगे

खबर शेयर करें -

देहरादून। शहर के निजी स्कूलों की मनमानी पर शिक्षा विभाग लगाम कसने जा रहा है। अब ऐसे स्कूल तीन साल से पहले अपनी फीस में एक रुपया भी नहीं बढ़ा सकेंगे। शुक्रवार को एमकेपी इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में बीईओ प्रेम स्कूलों लाल भारती ने साफ शब्दों में अल्टीमेटम दिया।

उन्होंने यह भी कहा कि स्कूल अगर फीस के मानकों की अनदेखी नदेखी करते हैं तो शिक्षा विभाग उनकी मान्यता भी निरस्त कर सकता है। उन्होंने कहा कि सभी स्कूलों को शिक्षा विभाग के नियम-कायदों से ही चलना होगा। बैठक में विभागीय अफसरों ने इस बात पर भी नाराजगी जताई कि निजी स्कूलों में मानकों के अनुसार पढ़े-लिखे और ट्रेंड शिक्षक नहीं रखे जा रहे हैं। इसे लेकर भी बीईओ ने सख्त निर्देश दिए कि सभी स्कूल न्यूनतम अर्हता और ट्रेनिंग वाले शिक्षक ही रखें। इसे लेकर जल्द ही स्कूलों को सर्वे करने की भी जानकारी दी गई। अफसरों ने स्कूलों की समस्याएं भी सुनीं और उनके समाधान पर चर्चा की।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून: उत्तराखंड के मैदानी क्षेत्रों में आज से लू की चेतावनी
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments