देहरादून -(बड़ी खबर) RTE में दाखिले के बाद जागा बाल संरक्षण आयोग

खबर शेयर करें -
  • आरटीई में दाखिले के बाद जागा बाल संरक्षण आयोग

देहरादून : शिक्षा का अधिकार (आरटीई) के तहत सीटें निजी विद्यालयों को आवंटित की जा चुकी हैं। अब उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग स्कूलों पर कार्रवाई करने की बात कर रहा है। आयोग ने आरटीई सीटों के लिए आवेदन न करने वाले विद्यालयों की सूची शिक्षा विभाग से मांगी है। इन स्कूलों की सूची शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत को सौंपी जाएगी। इस वर्ष प्रदेश में आरटीई की तकरीबन 11 हजार सीटें घटी हैं। दरअसल, उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग निजी स्कूलों की मनमानी पर कार्रवाई का दावा करते आया है, लेकिन आयोग के दावे निजी स्कूलों के सामने खोखले साबित हुए। इस वर्ष प्रदेश में बड़ी संख्या में संचालित हो रहे निजी स्कूलों ने आरटीई सीटों के

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी - यहां आठवी की छात्रा से दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में पुलिस
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - गर्जिया मंदिर दर्शन करने आए लखनऊ के पर्यटक की डूब कर हुई मौत
  • इस वर्ष प्रदेश में घट गई हैं शिक्षा का अधिकार की 11 हजार सीटें बाल आयोग ने आवेदन न करने वालों की मांगी सूची

लिए आवेदन ही नहीं किया। जिससे आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों के इसका नुकसान उठाना पड़ा। पूर्व में इन स्कूलों से आयोग ने सवाल- जवाब नहीं किए। स्कूलों में आरटीई के दाखिले हो चुके हैं और आयोग अब कार्रवाई करने की बात कर रहा है। जबकि आयोग लंबे समय से निजी स्कूल प्रबंधन के साथ बैठक करते आया है। बाल आयोग की अध्यक्ष डा. गीता खन्ना ने बताया जिन स्कूलों ने आरटीई सीटों के लिए आवेदन नहीं किए हैं, उनकी सूची शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत को सौंपी जाएगी।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments