देहरादून-(बड़ी खबर) ऐसे बनाता था फर्जी सीटी स्कैन रिपोर्ट, ये डॉक्टर अब गया सलाखों के पीछे

खबर शेयर करें -
  • फर्जी सीटी स्कैन रिपोर्ट बनाने वाला डॉक्टर गिरफ्तार, तीन साल से कर रहा था फर्जीवाड़ा।

देहरादून- सिविल अस्पताल में तैनात एक डॉक्टर को पुलिस ने सीटी स्कैन के फर्जी रिपोर्ट बनाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। मामला रुड़की के गंगनहर क्षेत्र का है। आरोपी ने सिविल अस्पताल में करीब 3 वर्ष पूर्व में लाखों रूपये लेकर कई फर्जी मेडिकल रिपोर्ट बना चुका है। दरअसल सीएमएस डॉ संजय कंसल की ओर से अज्ञात के खिलाफ 3 वर्ष पहले मुकदमा दर्ज कराया था। तहरीर में दिए गए बयान के मुताबिक सिविल हस्पताल में सीटी स्कैन मशीन की रिपोर्ट को लेकर वाइटिल रेडियोलॉजी सर्विसेज नोएडा से करार है।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां पेड़ पर चढ़ी महिला को लगा करंट, दर्दनाक मौत

संबंधित एजेंसी ही रिपोर्ट तैयार कर उपलब्ध कराती है। अस्पताल का कोई रेडियोलॉजिस्ट रिपोर्ट तैयार नहीं करता है। एजेंसी से मिलने वाली रिपोर्ट को कुछ अज्ञात लोग कूटरचना कर इसका मेडिकोलीगल मे इस्तेमाल कर रहे है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और मामले की जांच शुरू कर दी। जांच में पाया गया कि सिविल अस्पताल में तैनात डॉ बिरेन्द्र नौटियाल ने वर्ष 2019 और 2020 में पैसे लेकर फर्जी सिटी स्कैन और एक ही व्यक्ति के तीन–तीन मेडिकल रिपोर्ट बनाए।

आरोपी वर्तमान में खानपुर के चिकित्सा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रीय में तैनात था और पुलिस के गिरफ्त से बचने के लिए फरार हो गया था। साथ ही इंस्पेक्टर ऐश्वर्य पाल ने जानकारी देते हुए कहा कि आरोपी बिरेन्द्र नौटियाल पुत्र महेन्द्र सिंह निवासी ग्राम भगतोवाली झबरेड़ा को धोखाधड़ी, आपराधिक षडयंत्र रचने की धाराओं में गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने आरोपी को 14 दिन न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments