चंपावत- अब यहां तेजपत्ता की खेती से भी रोजगार करने का अवसर

खबर शेयर करें -
  • औषधीय गुणों एवं सुगन्ध से लवरेज तेजपत्तंे की खेती चम्पावत में शुरू।

चंपावत- अपनी सुगंध, स्वाद और विशिष्ट गुणों के लिए पहचाने जाने वाला तेजपात अब जनपद के लोगों की आर्थिकी भी मजबूत करने के साथ साथ रोजगार भी उपलब्ध कराएगा।

सरकार द्वारा ग्रमीणों की आर्थिकी को सुदृण बनाये जाने हेतु लगातार प्रयास किया जा रहा हैं। इसके क्रम में भेषज विकास इकाई द्वारा एमबीएडीपी योजना अंतर्गत समय समय पर जनपद के ग्राम पंचायतों व तोको में तेजपात के पौधों का वितरण किया जा रहा हैं।

भेषज इकाई द्वारा विकास खण्ड लोहाघाट के ग्राम मिटयानी में 2750 तेजपात पौधों का वितरण एवं रोपण किया गया। जिला भेषज समन्वयक कमलेन्द्र यादव ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रो में तेजपात के पौधों के रोपण से आने वाले समय में कृषकों की आय में वृद्धि होगी तथा उनकी आर्थिकी भी मजबूत होने के साथ साथ इससे अन्य को भी रोजगार उपलब्ध होगा।

संकलन एवं प्रस्तुति – सूचना एवं लोकसंपर्क विभाग चम्पावत (उत्तराखण्ड)।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - सगे भाई की पत्नी को कुल्हाड़ी से वार कर उतारा मौत के घाट
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments