उत्तराखंड – महिला बनी गुलदार की शिकार, घर के पास खेत में चारा काट रही महिला को गुलदार ने मार डाला

खबर शेयर करें -

भीमताल। भीमताल विकास खण्ड में आदमखोर गुलदार ने एक और महिला को मार डाला है। गुलदार के दो दिन के भीतर दो महिलाओं को मार डालने की घटना के बाद अब स्थानीय जनप्रतिनिधि नाराज हैं। क्षेत्र पंचायत प्रमुख डाॅ हरीश सिंह बिष्ट ने आदमखोर गुलदार को तत्काल मारने के आदेश जारी करने की मांग उठाई है।


मिली जानकारी के अनुसार भीमताल ब्लॉक के ग्राम पंचायत पिनरो निवासी पुष्पा देवी पत्नी भोला दत्त घर के पास ही खेत में चारा काट रही थी, तभी गुलदार ने हमला कर दिया। घास काट रही दूसरी महिला को घायल कर दिया। महिला पर गुलदार के हमले को देख वहां मौजूद लोगों ने शोर मचाया। तब तक गुलदार ने महिला को मार डाला था। शोर सुनकर गुलदार जंगल की ओर भाग गया। गांव के लोग शव लेकर पहुंचे।

यह भी पढ़ें 👉  Big Breaking - उत्तराखंड में इन तीन सांसदों को मिला टिकट

दो दिन पहले ही भीमताल ब्लॉक के ग्राम पंचायत मलुवाताल के तोक कसैला में बाघ द्वारा इंद्रा देवी पत्नी मोहन चन्द्र बेलवाल पर हमला कर मार डाला था। इन दो घटनाओं के बाद पूरे क्षेत्र के ग्रामीणों में गुलदार का भय है गुलदार की धमक पांडे गांव, जंगलिया गांव शिमाला, बनना पिनरो, अल्चोना , दुदली, देवनगर, ताड़ा में निरंतर ग्रामीणों को दिख रही है। क्षेत्र पंचायत प्रमुख डाॅ हरीश सिंह बिष्ट ने सभी क्षेत्र वासियों से सावधानी बरतने की अपील की है। कहा कि गुलदार के भय से ग्रामीण अपने दैनिक कार्यों हेतु घरों से बाहर नही निकल पा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में इन घटना दुखद व चिंताजनक है। साथ ही लगातार ग्रामीण पर हमले होने से विभाग ने गुलदार को मारने के आदेश नहीं दिए तो मजबूर होकर पूरे ब्लॉक के जनप्रतिनिधियों व ग्रामिणों के साथ वन विभाग व प्रशासन के खिलाफ आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

कहा कि लगातार लोगों को गुलदार अपना निवाला बना रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार हो रहे गुलदार हमले से ब्लॉक प्रमुख डाo हरीश सिंह बिष्ट ने नरभक्षी आदमखोर गुलदार घोषित कर इसे तत्काल जिलाधिकारी से मारने के आदेश जारी करवाने की मांग की है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments