उत्तराखंडः (गजब)- प्रेमी के साथ मिलकर सेक्स रैकेट चलती थी प्रेमिका, दिल्ली से आती थी उत्तराखंड

खबर शेयर करें -

Haridwar News: देवभूमि में लगातार देह व्यापार का धंधे का भंडाफोड़ किया जा रहा है। प्रदेश के कई जिलों में अनैतिक देह व्यापार का धंधा किया जा रहा है। समय-समय पर पुलिस इनका पर्दाफाश करती है। अब एक बार फिर हरिद्वार में पुलिस ने देह व्यापार का भंडाफोड़ किया है। जिसमें दिल्ली निवासी युवती और दिल्ली के ही दो युवकों को गिरफ्तार कर कब्जे से बैग, आपत्तिजनक वस्तु और 4200 रुपये की नकदी, दो मोबाइल फोन बरामद किए। इसके बाद पुलिस ने तीनों को जेल भेज दिया।जानकारी के अनुसार बुधवार की रात एएचटीयू और ज्वालापुर पुलिस को सूचना मिली कि रानीपुर मोड़ के पास दिल्ली से आए एक युवक-युवती देह व्यापार करा रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - गुलाब की महक से गुलजार हुआ पहाड़ का यह गांव

मौके पर पहुंची पुलिस ने यहां पर एक ग्राहक और युवक-युवती को पकड़ लिया गया। इस दौरान आरोपी अमन राय निवासी महिला कॉलोनी थाना गांधीनगर नई दिल्ली और डील करने आए आदिल मलिक निवासी किशन कुंज लक्ष्मी नगर दिल्ली और आनंद विहार पुरानी दिल्ली निवासी युवती को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों के पास से व्हाट्सएप चैट के साथ ही कुछ युवतियों के फोटो, मोबाइल फोन नंबर मिले हैं। व्हाट्सएप के जरिए ग्राहकों को फोटो भेजकर डील कर होटल में बुलाया जाता है।इस दौरान पुलिस की पूछताछ में युवती ने बताया कि वह अपने प्रेमी अमन राय के साथ दिल्ली से हरिद्वार आई है।

अमीर बनने के चक्कर में वह देह व्यापार के धंधे में पड़ गई। अमन के कहने पर ग्राहकों को जस्ट डायल से कालिंग और व्हाट्सएप मैसेज करती थी। आदिल मलिक को डील करने के लिए ही अंडरपास के पास बुलाया था। जहां डील के बाद तीनों निकलने वाले थे। आरोपी अमन राय ने भी इस बात को स्वीकार किया है। आरोपी महिला और युवक दिल्ली से देह व्यापार के लिए हरिद्वार आते थे। यहां मोबाइल फोन से ग्राहकों को होटल में बुलाते थे। ग्राहकों से मोटी रकम लेते थे और फिर एक-दो दिन रुककर वापस चले जाते थे। फोन पर संपर्क होने पर फिर हरिद्वार आते थे।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments