उत्तराखंड-(दुःखद) यहां पहाड़ में बन्द कमरे में अँगीठी जलाने से भाभी और नंद की मौत

खबर शेयर करें -
  • ओखलकांडा के डालकन्या में रात में बन्द कमरे में अँगीठी जलाने से भाभी और नंद की मौत ।

Bhimtal News- डालकन्या के पनखाल तोक में बुधवार की रात एक ही परिवार के दो लोगों की मौत हो गयी, इस घटना का कारण बताया जा रहा है कि शंकर राम आर्या के पुत्र गिरीश आर्या की 26 वर्षीय पत्नी बिश्नी देवी और 14 वर्षीय बेटी ममता रात क़रीब 8 बजे अलग कमरे में सोने गए थे ठंड से बचने के के लिए उन्होंने कमरे अँगीठी में आग जला रखी थी जिसमें खिड़की नहीं थी कमरा बन्द होने के कारण धुंआ कमरे से बाहर पास नहीं हुआ ।


वही जानकरी के मुताबिक बताया जा रहा है कि पिछली रात उनके घर में जागर थी अगले दिन का कामकाज कर रात 8 बजे बिश्नी देवी और ममता कमरे में सोने चले गए वही बिश्नी देवी की 1 वर्षीय बेटी है बताया जा रहा की बिश्नी देवी की 1 वर्षीय बेटी उस दिन अपने दादा शंकर राम आर्या के पास सोयी थी, बुधवार करीब रात 10 बजे बच्ची को भूख़ लगी तो वह रोने लगी और उसके दादा उसे दूध पिलाने अपनी बहू बिश्नी देवी के कमरे में गये दरवाज़ा खटखटाने के बाद अंदर से कोई ज़बाब न मिलने पर उन्होंने दरवाज़ा जैसे तैसे खोला और जब अंदर देखा तो बन्द कमरे में अँगीठी में आग जल रही थी और बहू बिश्नी देवी और बेटी ममता का धुँए से दम घुट चुका था ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड : यहां किशोरी के साथ दुष्कर्म, मामला दर्ज
अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments