उत्तराखंडः घरवालों से नाराज युवती निकली बाहर, महिला ने झांसे में लेकर उतारा देहव्यापार के धंधे में

खबर शेयर करें -

Haridwar News: आपके घर से बाहर कदम रखते ही आप किस दलदल में फंस जाय इसकी कल्पना नहीं की जा सकती है। यह सीख आजकल के युवाओं के लिए है जो छोटी-सी बातों पर घर छोड़ने को प्लान बनाते है। खबर उत्तराखंड के हरिद्वार से है। जहां एक युवती को देहव्यापार के धंधे में धकेलने का मामला प्रकाश में आया। युवती परिजनों से नाराज होकर नौकरी और घर की तलाश में निकल गई। ऐसे में युवती को एक महिला और उसके साथियों ने जिस्मफरोशी के दलदल में धकेल दिया। पीड़िता ने किसी तरह उनके चंगूल से छूटकर पुलिस से मदद की गुहार लगाई। जिसके बाद पुलिस ने ज्वालापुर क्षेत्र की एक कॉलोनी में छापा मार कर गैंग की सरगना महिला व उसके एक बेटे और बेटी को गिरफ्तार कर लिया। आइये जानते है पूरी खबर…

यह भी पढ़ें 👉  रामनगर - अवैध खनन की शिकायत पर नींद से जागा प्रशासन, क्रेशर सीज और भी करवाई

पुलिस ने जब पूरे मामले की छानबीन की तो सामने आया है कि शीला अपने बेटा-बेटी और दामाद के साथ मिलकर सैक्स रैकेट चला रही थी। जिसके बाद पुलिस ने छापकर मारकर युवती को बचाया और साथ ही एक नाबालिग बच्ची को भी बाहर निकाला। एसएससी अजय सिंह ने बताया कि हरिद्वार निवासी पीड़िता अपने घर वालों से परेशान होकर अलग रहना चाहती थी। नौकरी और घर की तलाश में युवती की मुलाकात हरिद्वार निवासी आशु प्रधान से हुई। जिसने उसकी मुलाकात ज्वालापुर में रह रहे बंटी नाम के व्यक्ति से कराई। जिसके बाद बंटी उसे ज्वालापुर में रानीपुर झाल क्षेत्र की कॉलोनी में ले गया। यहां दो महिलाओं ने उससे जिस्मफरोशी कराई जब उसने इसका विरोध किया तो मारपीट करते हुए जान से मारने की धमकी दी।

पुलिस और एएचटीयू टीम ने देव ग्रीन कॉलोनी में एक मकान में छापेमारी कर मुख्य सरगना शीला रानी को उसके बेटे सन्नी व बेटी साधना के साथ दबोचा गया। जबकि शीला के दामाद विपिन कांत निवासी हाथरस उत्तर प्रदेश की तलाश की जा रही है। फिलहाल युवती को दलदल से बाहर निकाला है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments