हल्द्वानी -बच्चों से महंगी किताबें मंगवाईं तो होगी कार्रवाई

खबर शेयर करें -

बच्चों से महंगी किताबें मंगवाईं तो होगी कार्रवाई

हल्द्वानी। निजी विद्यालयों में वार्षिक शुल्क समेत अनावश्यक शुल्क लेने, चिह्नित दुकानों से ही पुस्तक खरीदने या एनसीईआरटी के अतिरिक्त निजी प्रकाशकों की महंगी पुस्तकें खरीदने का दबाव अभिभावकों पर डाला तो शिक्षा विभाग दंडात्मक कार्रवाई करेगा।

उत्तराखंड युवा एकता मंच के संयोजक लालकुआं निवासी पीयूष जोशी ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर निजी स्कूलों की मनमानी के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी। इस मामले में खंड शिक्षा अधिकारी ने सभी निजी स्कूलों को आरटीई के नियमों

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: (बड़ी खबर) यहां दर्दनाक हादसा, कई लोगों की मौत की खबर
यह भी पढ़ें 👉  देहरादून : इन 13 IAS अधिकारियों को मिली ये जिम्मेदारी

बीईओ ने निजी स्कूलों को जारी किया नोटिस

का उल्लंघन करने पर जुर्माने की कार्रवाई करने का नोटिस जारी किया है। कहा कि यदि छात्रहित में एनसीईआरटी से भिन्न प्रकाशकों की पुस्तकें आवश्यक हो तो उनका मूल्य एनसीईआरटी की पुस्तकों के समान होना चाहिए।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड: पहाड़ के छोटे से गांव की अनुप्रिया बनी अधिकारी, कामयाबी से परिजनों में खुशी की लहर

नियमों का उल्लंघन करने पर पहली बार 25,000 रुपये और इसके बाद प्रत्येक बार 50,000 रुपये दंड का प्रावधान है।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments