हल्द्वानी – (बड़ी खबर) सरकारी डीलरो को शहर में उतारने की साजिश, निजी निवेशक के हाथो बेचेंगे शहर, वर्कशाप का होगा विरोध: किसान संघर्ष समिति

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी – हल्द्वानी में रजिस्ट्री प्रकरण के मामले में रेरा एक्ट के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान संघर्ष समिति में प्रेस वार्ता करते हुए एक बार फिर प्राधिकरण पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मीडिया के सामने प्रेस वार्ता करते हुए किसान संघर्ष समिति ने साफ कहा की नई शहर बसाने और रेरा के नियम लागू करने के नाम पर न सिर्फ किसानों से उनकी जमीन औने पौने दामों में छीनी जाएगी बल्कि प्राधिकरण निजी निवेशकों के नाम पर सरकारी डीलरों को शहर में उतारने की साजिश कर रहा है। और किसान संघर्ष समिति हर हाल में इसका विरोध करेगी यही नहीं आने वाली 25 अगस्त को हल्द्वानी नगर निगम में रेरा के नियमों के संबंध में आयोजित वर्कशॉप में भी किसान संघर्ष समिति हिस्सा नहीं लेगी और जल्द पूरे जिले में एक बहुत बड़ी महापंचायत कर सरकार और प्रशासन को उनकी मंशा के खिलाफ जन आंदोलन खड़ा करेगी।

यह भी पढ़ें 👉  देहरादून -निजी कॉलेजों में नहीं चल पाएगा चार वर्षीय बीएड कोर्स
यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - यहां नाबालिक युवती को ब्लैकमेल किया गंदा काम

प्रेस वार्ता में संघर्ष समिति के सदस्यों ने कई प्रकार के उदाहरण पेश किए जिसमें यह बताया गया कि कैसे प्राधिकरण किसानों की जमीनों को हड़पने का षड्यंत्र रच रहा है। साथी उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी सभाओं के बाद जिले में एक बहुत बड़ी महापंचायत की जाएगी जिस की तारीख जल्द घोषित की जाएगी और उनका यह आंदोलन लगातार जारी रहेगा। किसान संघर्ष समिति के सदस्य ललित जोशी, बलजीत सिंह, अर्जुन बिष्ट, जीवन कार्की सहित दर्जनों लोग मौजूद रहे।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments