हल्द्वानी-(बड़ी खबर) कमिश्नर दीपक रावत के जनता दरबार में भूमि संबंधी मामलों की भरमार

खबर शेयर करें -

हल्द्वानी –आयुक्त दीपक रावत की अध्यक्षता में शनिवार को कैम्प कार्यालय हल्द्वानी में जनसुुनवाई आयोजित हुई। आयुक्त श्री रावत ने आम जनमानस की समस्याआंे एवं शिकायतों का संज्ञान गंभीरता से लिया जिसमें विभिन्न लोगो ने पेयजल, सडक, विद्युत, पेंशन, अतिक्रमण,विद्युत, के साथ ही अधिकांश शिकायतें भूमि विवाद सम्बन्धित आयी।


आयुक्त ने जनसुुनवाई के दौरान अधिकतर समस्याआंे एवं शिकायतों को निस्तारित करते हुए शेष समस्याओं व शिकायतों को दूरभाष के माध्यम से सम्बन्धित अधिकारिंयो को प्राथमिकता के आधार पर शीघ्र समाधान एवं निस्तारित करने के निर्देश दिए।
आयुक्त को शिकायत मिली थी कि इन्टर कालेजों में प्रयोगशाला हेतु जिला योजना से 10 विद्यालयों में जो उपकरण क्रय किये गये थे वे उपकरण स्कूलांें में पहुचे नहीं थे और जिन विद्यालयों में उपकरण पहुचे उनकी गुणवत्ता भी निम्न स्तर की पाई गई। आयुक्त ने बच्चों के भविष्य को ध्यान मेे रखते हुये चाफी एवं मौना इन्टर कालेजांे में तत्काल चैकिंग करवाई गयी चैकिंग के दौरान पाया कि सामग्री इन्टर कालेजों में पहुची ही नही। आयुक्त ने टेण्डर प्रक्रिया में सम्मलित शिक्षा विभाग के प्रधान सहायक एवं लेखाकारों को तलब कर फाइलों का अवलोकन करने के पश्चात प्रथम दृष्टया पाया कि भुगतान स्कूलों में सामग्री पहुंचने से पहले ही कर दिया गया। साथ ही प्राप्ति रसीद पर हस्ताक्षर एक ही दिनांक के पाये गये। टेण्डर प्रक्रिया में सम्मलित प्रधान सहायक के द्वारा संतोषजनक जवाब नही देने पर आयुक्त ने जांच हेतु कमेटी का गठन किया। उन्होंने बताया कि मुख्य विकास अधिकारी उधमसिंह नगर, मुख्य कोषाधिकारी एवं एडी शिक्षा को जाचं कमेटी हेतु नामित कर एक माह के भीतर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये है। आयुक्त ने कहा कि कमेटी की रिपोर्ट के उपरान्त ही सम्बन्धितों के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाई जायेगी।


जनसुनवाई में लीलावती देवी पत्नी परमानन्द जोशी निवासी सीतापुर हल्द्वानी ने बताया कि उनके द्वारा सीतापुर हल्द्वानी में मोहन लोशाली से भूमि क्रय की गई थी। भूमि क्रय के दौरान लोशाली द्वारा मौखिक रूप से बताया गया कि 15 फिट का रास्ता उनको स्वंय के आंगन से दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि आवास का निर्माण उक्त भूमि पर कर दिया है। लोशाली द्वारा बताया गया कि आवागमन हेतु कोई रास्ता आपके लिए नही है। उन्होंने आयुक्त से आवागमन हेतु रास्त दिलाने की मांग रखी । आयुक्त ने समस्या का समाधान मौके पर करते हुए सम्बन्धित पक्ष को आवागमन हेतु रास्ता प्रयोग करने की बात कही जिस पर उनके द्वारा सहमति दी गई। कहा कि उनके द्वारा रास्ते के निजी प्रयोग के लिए कोई रोक नहीं लगाई जायेगी।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड -(बधाई) पहाड़ के शुभम रावत का भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर के पद पर चयन
यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी - (बड़ी खबर) अधिकारियों संग निकली DM फील्ड विजिट पर, दिए ये निर्देश


शीला राणा निवासी मुखानी हल्द्वानी ने बताया कि वर्ष 2007 में इकरारनामे में स्टाम्प पर लिखकर उन्हांेने बहादुर सिंह से भूमि 5031 वर्ग फिट 5 लाख रूपये में क्रय की थी। उन्होंने बताया कि वर्ष 2009 में बहादुर सिंह की मृत्यु के उपरान्त उनके वारिस मोहन सिंह नेगी ने उक्त भूमि को क्रय कर दिया। उन्होंने आयुक्त से न्याय दिलाने की गुहार लगाई।
बिमला देवी निवासी हल्द्वानी ने बताया कि बिठौरिया मंे उनके द्वारा भूमि काफी वर्ष पहले क्रय की गई थी, लेकिन आतिथि तक उनकी भूमि में दाखिल खारिज नही हो पाया है। बिमला देवी ने आयुक्त से उक्त भूमि का दाखिल खारिज कराने के अनुरोध किया। जिस पर आयुक्त ने तहसीलदार हल्द्वानी को उक्त भूमि की जांच कर दाखिल खारिज करने के निर्देश दिये।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments