देहरादून -(बड़ी खबर) चुनाव आते ही कांग्रेस को झटके पे झटका, दिन में मनीष खंडूरी तो शाम को इस नेता ने छोड़ी पार्टी

खबर शेयर करें -

देहरादून – उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस के एक के बाद नेता झटके देते जा रहे है। आज दिन में जहां कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े मनीष खंडूरी ने कांग्रेस को अलविदा कर भाजपा का दामन थाम लिया तो वहीं। रुद्रप्रयाग से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ चुकी पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष और हरक सिंह रावत के करीबी लक्ष्मी राणा ने भी कांग्रेस से अलविदा कह दिया, जाते-जाते लक्ष्मी राणा ने कांग्रेस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदयस्ता से त्याग पत्र देने के संदर्भ में।

मैं सन् 1998 में उत्तर प्रदेश युवा कांग्रेस की प्रदेश महामंत्री रही, 1997 से 2001 तक कांग्रेर पार्टी से ब्लॉक प्रमुख जखोली रही, 2002 से 2007 तक उपभोगता फॉर्म की सदस्य (राज् त्री) रही, 2014 से 2019 तक कांग्रेस पार्टी से जिला पंचायत अध्यक्ष रुद्रप्रयाग रही, 2017 में रुद्रप्रयाग विधानसभा से कॉग्रेस प्रत्याशी रही, 2018 से अब तक कांग्रेस पार्टी की प्रदेश महामंत्री हूँ।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - चमोली नंदानगर के कांडई-माणखी निवासी रघुनाथ सिंह ने पास की UPSC परीक्षा, गांव में खुशी की लहर

आपको विदित होगा हाल ही में मेरे घर और प्रतिष्ठान पर राजनीतिक द्वेष के चलते ईडी की छापेमारी हुई, हालांकि मैं जानती हूँ ये एक कानूनी प्रक्रिया है, किंतु पार्टी की तरफ से मेरे खिलाफ हुए इस राजीनीतिक द्वेष के बारे में ना कोई प्रतिक्रिया आई ना ही किसी ने मुझे इस दुःख की घड़ी में कोई ढांढस बंधाया।

यह भी पढ़ें 👉  उत्तराखंड - चमोली के नीति घाटी में खुशी की लहर, गांव के धीरज ने पास की UPSC परीक्षा

मैंने अपने जीवन के 27 साल से ज्यादा समय कांग्रेस परिवार की मजबूती के लिए कार्य किया, मैने उत्तराखंड के दूर दराज के पहाड़ी जिलों में हजारों महिलाओं और युवाओं को रात दिन मेहनत करके पार्टी में जोड़ने प्रयास किया, मैने मेरे जीवन का महत्वपूर्ण समय अपने, कांग्रेस परिवार की मजबूती के लिए समर्पित किया, किंतु आज मेरे कठिन समय में मेरे कांग्रेस परिवार के किसी भी जिम्मेदार पदाधिकारी ने मेरा साथ नहीं दिया, बहुत चिंतन करने के बाद मैंने अत्यंत आहत होकर दुखी मन से निर्णय लिया कि जिस कांग्रेस परिवार के सुख दुख में मैंने अपना जीवन खपाया उस कांग्रेस पार्टी में रहने का कोई औचित्य नही है, इसलिए मैं आज दुखी मन से कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्याग पत्र दे रही हूं।

अपने मोबाइल पर ताज़ा अपडेट पाने के लिए -

👉 व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करें

👉 फेसबुक पेज़ को लाइक करें

👉 यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

हमारे इस नंबर 7017926515 को अपने व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ें

Subscribe
Notify of

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments